22 C
Ahmedabad
Wednesday, February 28, 2024

केरल के बालासुब्रमण्यम मेनन का वर्ल्ड रिकॉर्ड: 73 साल 60 दिन से वकालत में एक्टिव; 97 साल की उम्र में भी रोज कोर्ट जाते हैं


Hindi NewsNationalKerala Lawyer World Record; Who Is P Balasubramanian Menon | Longest Service

तिरुवनंतपुरम8 मिनट पहले

कॉपी लिंक97 साल के मेनन पलक्कड़ के डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में वकालत करते हैं। - Dainik Bhaskar

97 साल के मेनन पलक्कड़ के डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में वकालत करते हैं।

केरल के उत्तर पलक्कड़ जिले के जाने-माने एडवोकेट पी बालासुब्रमण्यम मेनन ने सबसे लम्बे समय तक वकालत करने का रिकॉर्ड बनाया है। गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स के मुताबिक, 97 साल के मेनन 73 साल 60 दिन से वकालत में एक्टिव हैं। रिकार्ड बुक में इसे 11 सितंबर 2023 को दर्ज किया गया था।

मेनन के पहले सबसे ज्यादा लंबे समय तक वकालत करने का रिकॉर्ड जिब्राल्टर के सरकारी वकील लुईस ट्राय के नाम था। ट्राय ने 70 साल 311 दिनों का रिकॉर्ड बनाया था। इसी साल फरवरी में 94 साल की उम्र में लुईस का निधन हो गया।

मेनन की नातिन सुमा कनकला ने सोशल मीडिया पर तस्वीर पोस्ट की और लिखा, मेरे थाथागारू (नाना) मेरी प्रेरणा हैं।

मेनन की नातिन सुमा कनकला ने सोशल मीडिया पर तस्वीर पोस्ट की और लिखा, मेरे थाथागारू (नाना) मेरी प्रेरणा हैं।

आज भी रोजाना कोर्ट-ऑफिस जाते हैंकम उम्र में किसी उत्साही वकील की तरह मेनन भी इतनी ज्यादा उम्र में वकालत को लेकर एक्टिव हैं। वो आज भी रोजाना अपने ऑफिस और कोर्ट जाते है और अपने क्लाइंट्स से मिलते हैं। मेनन बिना किसी परेशानी के ये सारे काम करते हैं।

एक न्यूज चैनल से बात करते हुए मेनन ने बताया कि जब कोई पार्टी अपना केस लेकर मेरे पास आती है तो उसका मुझ पर विश्वास होता है। मैं उनके लिए जो भी कर सकता हूं, वो करुंगा।

मेनन ने अपने काम करने के तरीके के बारे में बताते हुए कहा कि वो कोर्ट में ज्यादा बहस करने में विश्वास नहीं रखते हैं। वो अपनी दलीलें और जिरह हमेशा छोटी रखते हैं।

रिटायरमेंट के सवाल पर मेनन मुस्कुरा देतेअगर कोई उनसे रिटारमेंट कब लेने वाले हैं जैसा सवाल पूछता है तो मेनन धीरे से मुस्कुरा कर कहते है कि जब तक मेरी सेहत ठीक रहेगी और मेरे क्लाइंट और पार्टियां मुझे चाहेंगी तब में वकालत की प्रैक्टिस करता रहूंगा।

उन्होंने उम्मीद जताई कि उनका ये रिकॉर्ड दूसरों को प्रेरित करेगा।

और भी खबर पढ़िए…

पद्मा लक्ष्मी बनी केरल की पहली ट्रांसजेंडर वकील:एर्नाकुलम लॉ कॉलेज से ग्रेजुएशन किया, वकालत के लिए बार काउंसिल में इनरोल्मेंट कराया

केरल स्टेट बार काउंसिल में पद्मा लक्ष्मी को पहली ट्रांसजेंडर महिला वकील के रूप में चुना गया है। वह 1500 से ज्यादा ग्रेजुएट में से एक हैं, जिन्होंने रविवार को आयोजित नॉमिनेशन सेरेमनी में राज्य की बार काउंसिल में अपना नाम इनरोल्मेंट कराया। इसके बाद पद्मा को प्रैक्टिस करने के लिए सर्टिफिकेट दे दिया गया। पूरी खबर पढ़िए…

खबरें और भी हैं…


Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
error: Content is protected !!